कल्याणकारी योजनाआंे को आमजन तक पहुंचाएंःनकाते

-जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने राजस्थान विकास प्रदर्शनी का शुभारंभ किया।
बाड़मेर, 26 मार्च। केन्द्र एवं राज्य सरकार की ओर से महिलाआंे के कल्याण के लिए विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा एवं एएनएम इन योजनाआंे को आमजन तक पहुंचाने का कार्य करें। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने सोमवार को भगवान महावीर टाउन हाल मंे प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की जिला स्तरीय कार्यशाला के दौरान मुख्य अतिथि के रूप मंे यह बात कही।
इस अवसर पर जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि मातृ एवं शिशु के स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता फैलाएं। ताकि मातृ एवं शिशु मृत्यु दर मंे कमी लाई जा सके। उन्हांेने उपस्थित आंगनबाड़ी कार्यकर्ताआंे एवं आशा सहयोगिनियांे से अपने दायित्व का निर्वहन मनोयोग का आहवान किया। उन्हांेने कहा कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत सभी पात्र गर्भवती और धात्री महिलाएं जिनके परिवार मंे पहला बच्चा 1 जनवरी 2017 को या इसके बाद हुआ तो एक लाभार्थी केवल एक बार इस योजना के तहत लाभ ले सकता है। जिला कलक्टर नकाते ने संस्थागत प्रसव, टीकाकरण, जनसंख्या नियंत्रण और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान मंे सक्रिय भागीदारी निभाने की बात कही।
  इस दौरान यूआईटी चैयरमैन डा.प्रियंका चौधरी ने कहा कि महिलाआंे के पास घर एवं राष्ट्र की चाबी है। उन्हांेने कहा कि बेटियां हर क्षेत्र मंे देश का नाम रोशन कर रही है। उन्हांेने कहा कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना मंे नकद प्रोत्साहन राशि परिवार के पहले जीवित बच्चे के लिए गर्भवती और धात्री महिलाआंे के खाते मंे सीधे हस्तांतरित की जाती है। उन्हांेने उपस्थित संभागियांे से इस योजना का लाभांवित होने तथा अन्य लोगांे को भी इसके लिए प्रेरित करने का अनुरोध किया।
अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.पी.सी.दीप्पन ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की योजनाआंे के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर गीता देवी एंड पार्टी ने लोक गीत, कुंभाराम ने गोल घूमर नृत्य की प्रस्तुति दी। रणवीरसिंह राजावत ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। सुपरवाइजर प्रेम शंकरसिंह ने योजना की पात्रता की शर्ताें एवं सत्यापन की प्रक्रिया, सुपरवाइजर दुर्गसिंह ने केन्द्र एवं राज्य सरकार की ओर से चलाई जा रही विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाआंे के बारे मंे जानकारी दी। सुभाषचन्द्र शर्मा ने प्रश्नोतरी एवं ये ताना बाना बदलेगा गीत की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम के अंत मंे महिला एवं बाल विकास विभाग के उप निदेशक जीतेन्द्रसिंह नरूका ने धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार की ओर से चलाई जा रही विभिन्न योजनाआंे की जानकारी आमजन तक पहुंचाएं। इस अवसर पर जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सहायक निदेशक एन.सी.चन्द्रोदय समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन एसोशिएट प्रोफेसर मुकेश पचौरी ने किया।
राठी की कथक प्रस्तुति ने मन मोहा: जयपुर घराने की प्रसिद्व कलाकार सुश्री प्रेरणा राठी ने कथक नृत्य की प्रस्तुति दी। राठी ने विभिन्न मुद्राआंे मंे कथक नृत्य की प्रस्तुति दी। इन प्रस्तुतियांे को लेकर आमजन ने खासा उत्साह दिखाया। नृत्य को देखकर दर्शकांे ने कई बार तालियां बजाकर नृत्यांगना राठी को प्रोत्साहित किया।
रंगोली रही आकर्षण का केन्द्रः कार्यशाला की शुरूआत मंे महिला एवं बाल विकास विभाग के उप निदेशक जीतेन्द्रसिंह नरूका ने भगवान महावीर टाउन हाल परिसर मंे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताआंे के सहयोग से राजस्थान दिवस, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना एवं बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान को लेकर रंगोली बनाई। यह रंगोली आमजन मंे खासे आकर्षण का केन्द्र रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *